How To Make Driving Licence Online

Add a heading - 1

ड्राइविंग लाइसेंस कैसे बनवाये ऑनलाइन ?  

Driving Licence कैसे बनाये ?  

हैल्लो दोस्तों, ड्राइविंग लाइसेंस एक जरुरी डॉक्यूमेंट है। अगर आपके पास ड्राइविंग लाइसेंस नहीं है तो आप सार्वजनिक स्थल पर वाहन नहीं चला सकते हो। और अगर आप बिना ड्राइविंग लाइसेंस के वाहन चलाते हो तो आपको जुरमाना (Fine)  भी हो सकता है। इस लेख में हम सीखेंगे ड्राइविंग लाइसेंस कैसे बनाया जाता है ? क्या-क्या डाक्यूमेंट्स लगते है ? ऑनलाइन अप्लाई कैसे करें ? इस प्रकार की पूरी जानकारी इस लेख में होगी। 

जानकारी प्राप्त करने के बाद आप खुद ही ऑनलाइन अप्लाई करके अपना ड्राइविंग लाइसेंस बनवा सकते हो।  

  1. ड्राइविंग लाइसेंस घर बैठे कैसे बनाएं ?

अगर आप भी लर्निंग लाइसेंस हासिल करना चाहते हैं, तो अब इसके लिए आपको R.T.O. के चक्‍कर काटने की कोई जरूरत नहीं है । भारत सरकार ने अब ड्राइविंग लाइसेंस बनाने का प्रॉसेस डिजिटलाइज कर दिया है । आप लर्निंग लाइसेंस के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं, परमानेंट लाइसेंस के लिए आपको आरटीओ ऑफिस विजिट करना ही होगा.

  • ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए क्या क्या डॉक्यूमेंट चाहिए 2023?
  • ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए जरूरी दस्तावेज (Documents)
  • आवेदक का आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • ऐड्रेस प्रूफ (वोटर आईडी कार्ड, पैन कार्ड, राशन कार्ड, बिजली बिल)
  • आयु का प्रमाण (जन्म प्रमाण पत्र, दसवीं की मार्कशीट)
  • लर्निंग लाइसेंस नंबर ( परमानेंट ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए )
  • हस्ताक्षर
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो  

ऑनलाइन ऐसे बनवाएं अपना ड्राइविंग लाइसेंस

स्टेप 1: सबसे पहले https://parivahan.gov.in  वेबसाइट को अपने कंप्यूटर पर ओपन कर लें, यहां पर ड्राइविंग लाइसेंस का विकल्प आपको नजर आएगा जिसका चुनाव आपको करना है.

स्टेप 2: इसके बाद आपको अपना राज्य चुनना है और अब अप्लाई ड्राइविंग लाइसेंस वाले विकल्प का चुनाव करके आपको आगे बढ़ जाना है.

स्टेप 3: अब अपना मोबाइल नंबर डालने का काम करें और उस पर आए वन टाइम पासवर्ड यानी ओटीपी को भर दें. फिर Authenticate with Sarathi वाले विकल्प पर क्लिक कर दे । सबसे पहले आपको लर्निंग लाइसेंस बनवाना है। उसके बाद आप परमानेंट ड्राइविंग लाइसेंस के लिए अप्लाई कर सकते हो।

स्टेप 4: इतना करने के बाद यहां आपको अपना लर्निंग वाला लाइसेंस नंबर और अपनी जन्मतिथि भरने के बाद ओके पर क्लिक करने की जरूरत है ।

स्टेप 5: अब यहां एक नया पेज ओपन हो जाएगा. यहां आपको नीचे जाकर व्हीकल क्लास चुनने की जरूरत है. इसका मतलब आप सिर्फ दो पहिया के लिए लाइसेंस बनवाना चाहते हैं या चार पहिया के लिए भी…इसके बाद इसे सब्मिट करने का काम करें ।

स्टेप 6: इसके बाद आपको एप्लीकेशन फॉर्म 1 ( फिटनेस सर्टिफिकेट ) को डाउनलोड करने की जरूरत है और साथ ही फॉर्म 1ए (मेडिकल सर्टिफिकेट) को भी डाउनलोड करना है, इतना करने के बाद आगे बढ़ जाएं ।

स्टेप 7: अब आपको ड्राइविंग लाइसेंस टेस्ट के लिए स्लॉट बुक करने की जरूरत होगी । इसके लिए अपना लर्निंग लाइसेंस नंबर भरना है और जन्मतिथि और कैप्चा कोड भरकर सब्मिट करें ।

स्टेप 8: इसके बाद आपको Proceed to book पर क्लिक करना है, इसके बाद आपको यहां उपलब्ध तारीख और इसके बाद उपलब्ध समय दिखने लगेगा, आप अब अपनी सुविधा के हिसाब से चुनाव कर लें-अब मोबाइल पर आए सिक्योरिटी कोड को भरकर सब्मिट करने का काम करें ।

स्टेप 9: यहां अब आपको आपकी सारी जानकारी पीडीएफ में नजर आने लगेगी, इसे अपने पास रख लें और इसे टेस्ट से वक्त आपको साथ ले जाना होगा ।  

स्टेप 10: अब आपको एप्लीकेशन नंबर और जन्मतिथि भरने की जरूरत है और Fees Pay वाले ऑप्शन पर क्लिक करें, अब यहां आपको फीस ऑनलाइन भरनी है।

स्टेप 11: पेमेंट सफलतापूर्वक भर देने के बाद आपको तय तारीख पर आरटीओ दफ्तर में एप्लीकेशन फॉर्म, फॉर्म 1, फॉर्म 1 ए और पेमेंट की पर्ची बाकी सभी जरुरी डाक्यूमेंट्स लेकर जाना है। यहां आपका टेस्ट पास होने के बाद आपके घर पर आपका ड्राइविंग लाइसेंस बनकर पहुंच जाएगा ।

अगर आप हरियाणा से हो तो मैंने Learner License पर Compleate विडियो बनाई हुई है आप निचे दिए हुए लिंक पर क्लिक करके Compleate विडियो Watch कर सकते हो ? और अपना Learner License Online ही बनवा सकते है।

  • परमानेंट ड्राइविंग लाइसेंस कैसे बनता है ?

भारत में परमानेंट ड्राइविंग लाइसेंस प्राप्त करने के लिए आपके पास पहले लर्नर लाइसेंस होना जरूरी है। लर्नर लाइसेंस प्राप्त करने के 30 दिनों के बाद व्यक्ति परमामेंट ड्राइविंग लाइसेंस के लिए अप्लाई किया जा सकता है। यह तरीका पूरी तरह से ऑनलाइन है। आप बिना सरकारी दफ्तर के चक्कर लगाए आसानी से लाइसेंस बनवा सकते हैं।

  • सबसे पहले कौन सा लाइसेंस बनता है ?

ड्राइविंग लाइसेंस प्राप्त करने का पहला कदम लर्निंग लाइसेंस माना जाता है।   इसके छह महीने के भीतर आपका स्‍थाई लाइसेंस के लिए आवेदन करना होता है ।   अगर आप भी लर्निंग लाइसेंस हासिल करना चाहते हैं, तो आप ऑनलाइन आवेदन करके लर्निंग लाइसेंस प्राप्त कर सकते हो।

ड्राइविंग लाइसेंस के लिए सही उम्र क्या है ?

निजी ड्राइविंग लाइसेंस की उम्र के अनुसार वैद्यता होती है। यानिकी कोई 20 साल का व्यक्ति ड्राइविंग लाइसेंस बनवाता है तो आगे 20 साल तक वैद्य रहेगा। जब तक धारक 40 वर्ष की आयु प्राप्त नहीं कर लेता, जो भी पहले आता है। 40 साल की उम्र के बाद ड्राइविंग लाइसेंस 10 साल और फिर 5 साल बाद जारी किया जा सकता है।

  • ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने की न्यूनतम उम्र क्या है ?

इसके पहले नियम के मुताबिक कोई भी 18 वर्ष से कम आयु का व्यक्ति किसी सार्वजनिक स्थान में मोटर वाहन नहीं चलाएगा। हालांकि कोई भी युवा 16 वर्ष की आयु का होने पर लाइसेंस बनवाकर 50 सी सी से कम इंजन क्षमता का मोटर वाहन चला सकता है। इस नियम के मुताबिक पूरे देश में 16 साल की आयु के आवेदकों के लाइसेंस बनाए जा सकते है। अगर आवेदक की आयु 16 साल है तो केवल 2 व्हीलर (स्कूटी) का लाइसेंस ही बनाया जायेगा। 

लर्निंग के कितने दिन बाद परमानेंट होता है ?

Learning License की वैधता 6 माह के लिए होती है, यानी इसे 6 महीने के भीतर परमानेंट के लिए आवेदन करना अनिवार्य होता है।

  • लर्निंग लाइसेंस कितने साल में बनता है ?

18 साल का होने के बाद आप लर्निंग लाइसेंस हासिल कर सकते हैं और इसके बाद आप गियर वाली गाड़ी भी ड्राइव कर सकते हैं। खासकर गाड़ी सीखने वाले यूजर्स के लिए ये लर्निंग लाइसेंस काफी बेहतर साबित होने वाला है। लर्निंग लाइसेंस की वैलिडिटी 6 महीने की है।

  • बिना लाइसेंस के कितना जुर्माना लगता है ?

बिना लाइसेंस के गाड़ी चलाने पर क्या जुर्माना है? बिना लाइसेंस के गाड़ी चलाने पर जुर्माना 5,000 रुपये है, और इसमें अतिरिक्त जेल की भी शामिल हो सकती है।

  • लाइसेंस कितने प्रकार के होते हैं ?

भारत में ड्राइविंग लाइसेंस चार प्रकार के होते हैं, जो हैं: लर्नर ड्राइविंग लाइसेंस, परमानेंट ड्राइविंग लाइसेंस, कमर्शियल ड्राइविंग लाइसेंस और इंटरनेशनल ड्राइविंग परमिट।

  1. भारत में 4 व्हीलर लाइसेंस प्राप्त करने में कितना समय लगता है ?

यदि आपके पास पहले से ही दोपहिया वाहन लाइसेंस है तो आप सीधे चार पहिया वाहन लाइसेंस के लिए आवेदन कर सकते हैं, व्यावहारिक परीक्षण दें और 1-2 महीने के भीतर आप सभी प्रक्रिया पूरी कर लेंगे। यदि आप नए लाइसेंस के लिए आवेदन कर रहे हैं। अगर आपकी आयु 18 वर्ष से अधिक है तो आप ऑनलाइन आवेदन करते समय 4 व्हीलर लाइसेंस के लिए आवेदन कर सकते है। आवेदन करने के बाद लगभग 1 से 2 महीनों  में परमानेंट ड्राइविंग लाइसेंस मिल जाता है। 

भारत में लर्निंग लाइसेंस सीखने की उम्र कितनी है ?

लर्नर लाइसेंस के लिए आवेदन करने के लिए, व्यक्ति को निम्नलिखित पात्रता मानदंडों को पूरा करना होगा आवेदक की आयु 16 वर्ष या उससे अधिक होनी चाहिए। जब तक कोई सीखता है, वह केवल बिना गियर वाले और 50 सीसी की इंजन क्षमता वाले वाहन ही चला सकता है।

परमानेंट ड्राइविंग लाइसेंस क्या होता है ?

यह सबसे अधिक उपयोग होने वाला लाइसेंस है। लर्निंग लाइसेंस के एक महीने के बाद इसके लिए आवेदन किया जा सकता है, जिसके बाद आप RTO की ओर से एक तारीख लेकर ड्राइविंग टेस्ट दे सकते हैं। यदि आप उस टेस्ट में पास हो जाते हैं, तो आपको एक पर्मानेंट लाइसेंस जारी कर दिया जाता है।

ड्राइविंग लाइसेंस कितने दिन में घर पर आ जाता है ?

Driving License अप्लाई करने के लिए आपको ऑफिशियल साइट पर जाना होगा। (www.parivahan.gov.in) पर विजिट करने के बाद आपको यहां लाइसेंस अप्लाई करने का ऑप्शन नजर आएगा। सभी डॉक्यूमेंट देने के बाद इसे RTO वेरिफाई करेगा और क्लियर होने के बाद 7 – 10 दिन के अंदर ड्राइविंग लाइसेंस आपको मिल सकता है।

लर्निंग ड्राइविंग लाइसेंस से क्या फायदा है ?

लर्निंग लाइसेंस का मतलब है कि आप इस दौरान गाड़ी चलाना सीख सकते हैं। इसके बाद आपको ड्राइविंग लाइसेंस हासिल करने से ड्राइविंग टेस्ट देना होता है। टेस्ट क्लियर करने के बाद आपको ड्राइविंग लाइसेंस ईशू किया जाता है। इससे पहले लर्निंग लाइसेंस ईशू किया जाता है, जिसके लिए ड्राइविंग नियमों से सबंधित कंप्यूटर टेस्ट होता है। कंप्यूटर टेस्ट क्लियर होने के बाद ही आपका लर्निंग ड्राइविंग लाइसेंस बनाया जाता है।

लर्निंग ड्राइविंग लाइसेंस एक्सपायर होने पर क्या करें ?

    अगर आपका लर्निंग ड्राइविंग लाइसेंस एक्सपायर्ड हो गया है और इसके जारी होने के छह महीने के भीतर परमानेंट ड्राइविंग लाइसेंस नहीं बनवा पाए हैं तो आपको दोबारा लर्निंग लाइसेंस पाने के लिए अब टेस्ट नहीं देना होगा। पहली बार लर्निंग लाइसेंस बनवाते समय हुए ऑनलाइन टेस्ट के आधार पर लर्निंग लाइसेंस को रिन्यू कर दिया जाएगा। लेकिन learning ड्राइविंग लाइसेंस की फीस दोबारा देनी होती है। 

    तो यह थी जानकारी ड्राइविंग लाइसेंस के बारे में मैंने इस ARTICLE में ड्राइविंग लाइसेंस के बारे में पूरी जानकारी देने की कोशिश की अगर आप ड्राइविंग लाइसेंस के बारे में और अधिक जानकारी चाहते है और इस से सबंधित कम्पलीट DETAILS में VIDEO WATCH करना चाहते हो तो आप मेरे YOUTUBE CHANNEL DIGITAL PATHSHALA को जरुरु विजिट करें।  निचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें …

    Similar Posts

    2 Comments

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.