| | |

How To Get Poultry Farming Business Loan .

मुर्गी पालन बिज़नस के लिए सरकारी योजना में 50 लाख रु तक का लोन प्राप्त कर सकते है अगर आप पोल्ट्री फार्मिंग बिज़नस करना चाहते हो तो लोन और सब्सिडी का लाभ प्राप्त कर सकते हो |

मुर्गी पालन (Poultry Farming) बिज़नेस लोन कैसे ले ?

भारत एक कृषि प्रधान देश है लोगो की आय का मुख्य साधन कृषि है | अब सरकार कृषि कार्य के साथ – साथ पशुपालन को भी बढ़ावा दे रही है | किसानो की आय को दोगुना करना सरकार का उदेश्य है सरकार चाहती है की किसानो की आय बढे इसलिए कृषि के साथ साथ कई प्रकार की पशुपालन योजनाये सरकार द्वारा शुरू की गयी है | NLM (National Livestock Mission) और Mudra Livestock Mission योजना इस प्रकार की कई सरकारी योजनाये है जिनमे किसानो को लोन और सब्सिडी का लाभ दिया जाता है |

इस लेख में हम मुर्गी पालन योजना के बारे में डिटेल में जानकारी बताएंगे, मुर्गी पालन (Poultry Farming) के लिए किसान सरकारी योजना में कितना लोन ले सकते है और कितनी सब्सिडी मिलती है इस बारे में विस्तृत जानकारी साँझा करेंगे |

  • पोल्ट्री फार्म बिज़नेस क्या है ?
  • पोल्ट्री फार्म बिज़नेस कितने प्रकार का होता है ?
  • पोल्ट्री फार्म बिज़नेस कैसे शुरू करें ?
  • मुर्गी पालन व्यवसाय (Poultry Farming) के लिए कितना लोन मिलता है ?
  • मुर्गी पालन व्यवसाय (Poultry Farming) लोन पर सब्सिडी कितनी मिलती है और सब्सिडी का लाभ कैसे मिलेगा ?
  • पोल्ट्री फार्म बिज़नेस में कितना लाभ होता है ?

पोल्ट्री फार्म बिज़नेस क्या है ?

               मुर्गी पालन (Poultry Farming) कृषि के साथ जुड़ा हुआ व्यवसाय है इस व्यवसाय में किसानो द्वारा एक व्यवस्थित तरीके से मुर्गियों का पालन किया जाता है | इस व्यवसाय में किसान मुर्गी के अंडे और मुर्गी का मीट बेच कर लाभ कमाता है |  इस व्यवसाय को बड़े स्तर पर करके लाखों रुपयों का लाभ ले सकते है |

यह बिजनेस ग्रामीण क्षेत्र में मुख्यत ज्यादा लाभदायक हो सकता है क्योंकि ग्रामीण क्षेत्र में श्रमिक कम लागत में मिल जाते है और प्राकृतिक साधन भी आसानी से उपलब्ध होते है |

पोल्ट्री फार्म बिज़नेस कितने प्रकार का होता है ?

मुर्गी पालन (Poultry Farming) दो तरह से की जा सकती है :

01 Contract Poultry Farming

02  सामान्य पोल्ट्री फार्मिंग

Contract Poultry Farming : मुर्गी फार्मिंग करने का यह एक बहुत अच्छा मॉडल है , वह किसान जो मुर्गी फार्मिंग का बिजनेस करना चाहता है लेकिन उसके पास निवेश करने के लिए पैसे का आभाव है फिर भी किसान Contract Poultry Farming बिजनेस मॉडल के तहत बिजनेस कर सकता है |

Contract Poultry Farming बिजनेस मॉडल, मुर्गियों को पालने का एक व्यापारिक मॉडल है इसके तहत किसान को मुर्गी पालन बिज़नस के लिए कम्पनी के साथ अनुबंध (CONTRECT) करना होता है | कम्पनी द्वारा पोल्ट्री फार्म का लगभग सारा खर्चा उठाया जाता है | कम्पनी द्वारा किसान को Chick (चूजा) उपलब्ध करवाए जायेंगे, फीड उपलब्ध करवाई जाएगी, दवाइयों का खर्चा कम्पनी का होगा और ट्रांसपोर्ट का खर्चा भी कम्पनी का होता है |  इसके बाद 32 से 35 दिनों के बाद मुर्गियों को कम्पनी खरीद लेती है और किसान को उनका लाभ (Profit) दे दिया जाता है | इस मोडल में किसान मुर्गियों को पालने और उनकी देखभाल करने की जिम्मेदारी लेते हैं |

सामान्य पोल्ट्री फार्मिंग बिज़नेस :

सामान्य पोल्ट्री फार्मिंग बिज़नस देशी मुर्गियों को पलने का एक व्यवसाय है इसमें किसान मुर्गी के अंडे बेच कर और मीट बेच कर लाभ कमा सकते है | इस व्यवसाय में किसान अपने सामर्थ्य के अनुसार बर्ड रख सकते है | देशी मुर्गियों का व्यवसाय करने के लिए किसान सरकारी योजना में लोन भी ले सकते है |

  • मुद्रा पोल्ट्री फार्मिंग योजना
  • नेशनल लाइव स्टॉक मिशन योजना (NLM)

उपरोक्त इन दोनों योजनाओ में आवेदन करके किसान देशी मुर्गी पालन के लिए लोन ले सकते है और सब्सिडी का लाभ भी ले सकते है |

मुर्गी पालन व्यवसाय (Poultry Farming) के लिए कितना लोन मिलता है ?

देशी मुर्गी पालन का बिज़नस करने के लिए किसान 50 हजार से 50 लाख रु तक का लोन ले सकते है |

मुद्रा पोल्ट्री फार्मिंग योजना : इस योजना में कृषि से जुड़े हुए व्यवसाय (Allied to agriculture Business) के लिए 50 हजार से 10 लाख रु तक का लोन मिलता है | अगर आप mudra योजना में लोन लेना चाहते हो तो परधानमंत्री मुद्रा योजना की अधिकारिक वेब साईट www.mudra.org.in पर और अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते हो |

नेशनल लाइव स्टॉक मिशन योजना (NLM)  इस योजना में मुर्गी पालन व्यवसाय के लिए 50 लाख रूपए तक का लोन प्राप्त कर सकते हो | इस योजना मेंलोन होने पर50 % सब्सिडी का लाभ भी दिया जाता है | यानिकी अगर आपका 50 लाख का लोन होता है तो 25 लाख रूपए सब्सिडी के रूप में मिलते  है |

इसकी अधिकारिक वेब साईट है https://nlm.udyamimitra.in/  इस वेब साईट से आप और अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते हो और यहा से आप ऑनलाइन ही अप्लाई भी कर सकते हो |

 नेशनल लाइव स्टॉक मिशन योजना (NLM) ये सरकार की बेहतरीन योजना है इस योजना में कैसे आवेदन करें ? लोन कैसे मिलेगा ? सब्सिडी कितनी मिलेगी और कैसे मिलेगी ? पूरी योजना क्या है और कौन कौन इस योजना में लाभ ले सकता है ? इस प्रकार की और अधिक विस्तृत जानकारी के लिए आप हमारा YOU TUBE चैनल विजिट कर सकते है | चैनल पर नेशनल लाइव स्टॉक मिशन योजना (NLM) योजना के बारे में डिटेल में वीडियो मिलेगा |

पोल्ट्री फार्म बिज़नेस कैसे शुरू करें ?

पोल्ट्री फार्म बिज़नस शुरू करने के लिए सबसे पहले आपको मुर्गी पालन की ट्रेनिंग लेना जरुरी है आपको किसी मान्यता प्राप्त संसथान से ट्रेनिंग लेना है और आपके पास ट्रेनिंग सर्टिफिकेट होना चाहिए तभी आपको बैंक से लोन मिलेगा | आपके मन में सवाल आ रहा होगा की ट्रेनिंग कहां से प्राप्त करें ? आपकी जानकारी के लिए बताना चाहूँगा की आप अपने क्षेत्र में नजदीकी कृषि विज्ञान केंद्र से मुर्गी पालन की ट्रेनिंग प्राप्त कर सकते हो | इसके आलावा और भी कई प्रकार की संस्थाए है जो पशुपालन ट्रेनिंग उपलब्ध करवाते है आप उन संसथान की जानकारी प्राप्त करके वहां से भी ट्रेनिंग और सर्टिफिकेट प्राप्त कर सकते हो |

                        इसके बाद अगर आप कांट्रेक्ट पोल्ट्री फार्मिंग बिज़नस करना चाहते हो तो आपको कम्पनी से कांट्रेक्ट करना होता है | अगर आप लोन लेना चाहते हो तो आपको बैंक से कांटेक्ट करना है और योजना के बारे जानकारी साँझा करनी है | इस प्रकार से आप शुरुआत कर सकते हो | पोल्ट्री फार्मिंग बिज़नस के लिए आपको कई बातों का विशेष ध्यान रखने की जरुरत होती है और कई नियम और शर्तो का पालन करना होता है ….

मुर्गी फार्म खोलने की नियम व शर्ते क्या है :-

  • मुर्गी फार्म शुरू करने के लिए आपके पास ट्रेनिंग सर्टिफिकेट होना जरुरी है |
  • मुर्गी फार्म शुरू करने के लिए स्थानीय पशुपालन विभाग से फार्म का पंजीकरण / लाइसेंस प्राप्त करना जरूरी है |
  • पोल्ट्री फार्मिंग के लिए किसान के पास शेड बनने के लिए पर्याप्त भूमि होनी चाहिए |
  • किसान को अपनी ग्राम पंचायत से मुर्गी फार्म बनाने की अनुमति लेना जरूरी है |
  • एक बर्ड के लिए लगभग 2 x 2 वर्ग फुट भूमि की आवश्यकता होती है किसान जितने बर्ड/मुर्गियां  रखना चाहता है उनके अनुसार उसके पास भूमि होनी चाहिए |
  • मुर्गियों के लिए उचित आकार का वेंटिलेशन और प्रकाश व्यवस्था वाला मजबूत शेड बना हुआ होना चाहिये।
  • फार्म की नियमित सफाई, कीटाणुशोधन और बीमारियों से बचाव के लिए उचित सुविधा होनी चाहिये |
  • किसान के पास मुर्गी पालन का उचित अनुभव होना जरूरी है अगर किसान को पूरा अनुभव होगा तो किसान अधिक लाभ कमा सकेगा |

पोल्ट्री फार्म बिज़नेस में कितना लाभ हो सकता है ?

मुर्गी पालन व्यवसाय में कितना लाभ होता है ये कई कारण पर निर्भर करता है जैसे किसान कितनी मुर्गियों से अपना व्यवसाय शुरू करना चाहता है यानिकी कुल कितने बर्ड है, मुर्गियों को रखने की व्यवस्था क्या है और उस पर किसान कितना खर्च कर रहा है , मुर्गियों की नस्ल क्या है , और किसान लेबर पर कितना खर्च कर रहा है , इस प्रकार से अगर किसान सूझ बुझ के साथ काम करता है तो इस व्यवसाय में बहुत अच्छी कमाई कर सकता है | बहुत से ऐसे किसान है जो मुर्गी पालन व्यवसाय में लाखों रुपये महीने की कमाई करते है |

           इस व्यवसाय में अनुमानित कमाई कम से कम 10 हजार रूपए प्रति महीने से लेकर लाखों रुपये प्रति महीने की कमाई हो सकती है | ये किसान के अनुभव पर और लगन पर निर्भर करता है |

मुर्गी फार्म शुरू करने पर कई प्रकार का जोखिम भी है जैसे :-

  • कई  बार संक्रमण / बीमारी फैलने की वजह से मुर्गियां बीमार हो जाती है और कई बार तो मुर्गियां मर भी जाती है | इस से किसान को भारी  नुकसान का सामना करना पड़ सकता है |
  • बाजार में मुर्गी या अण्डों की मांग कम होने पर भी नुकशान उठाना पड़ सकता है |
  • आज बाजार में बढती हुई प्रतिस्पर्धी के कारण से किसान का लाभ कम हो सकता है |
  • अगर किसान के पास पर्याप्त अनुभव नहीं है और किसान बिना अनुभव के किसी के कहने पर मुर्गी फार्म का व्यवसाय कर लेता है तब भी किसान को भारी नुकसान होने की पूरी सम्भावना होती है |

                अगर इस व्यवसाय को साईंटिक तरीके से किया जाये और पुरे प्रोसेस नियमों का पालन करे तो ये एक बहुत ही प्रॉफिट वाला व्यवसाय है |

                  इस प्रकार की और अधिक जानकारी वीडियो फोर्मेंट में देखने के लिए आप हमारा YOU TUBE  चैनल DIGITAL PATHSHALA  डिजिटल पाठशाल जरुर विजिट करें … निचे दिए गए बटन पर क्लिक करें ..

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.